बुधवार, 7 दिसंबर 2011

फेसबुक परिवार


फेसबुक परिवार 

यह है फेसबुक परिवार 
अप दैट्स यूअर स्टेटस 
लाइफ मै रहो परफेक्ट 
या हो सविचार या आपके विचार 
बना डालो अब आम का आचार 
यह है फेसबुक परिवार 

सुबह शुभ प्रभात से होती 
फिर शुभ दिन शुभ संध्या 
फिर जाके शुभ रात्री होती 
बचैनी छाहती है जब तक 
कॉमेंट्स या लइका नहीं आता 
यह है फेसबुक परिवार 

कभी विडीओ कभी तस्वीर 
कभी दुखद खबर 
कभी चर्चा गंभीर 
कभी देश तो कभी विदेश 
यह है फेसबुक परिवार 

आपना रिश्ता नीभाते हैं 
रोज शाम सवेरे दर्शन हो जाते
कभी कोई ओंन लाइन नहीं होता 
तो दुसरे दिन उसे याद दिलाते है 
यह है फेसबुक परिवार 

परिवार से बढकर रिश्ता नजर आता है 
जब कोई आकाओंट डीलीट करता तो दिल टूट जाता है 
जब को अभद्र व्यहरा करता है गुस्सा आता है 
पीडत मित्र पर सवेदन जाग जाता है 
यह है फेसबुक परिवार 

आज के समय मै दिल का दिल से तारा जुड़ा 
कुछ नहीं तो पोक तो होवा
कभी टैग की मार होती है 
कभी खुशीयीं की बरसात होती है 
यह है फेसबुक परिवार 

ये से ही अब दिन रात गुजर ते है 
बीना फेसबुक के दिन नहीं कट ते है 
एक सच्चा दोस्त अब तो लगे 
जीन्दगी का सच्चा अब वो गीत लगे 
यह है फेसबुक परिवार 

यह है फेसबुक परिवार 
अप दैट्स यूअर स्टेटस 
लाइफ मै रहो परफेक्ट 
या हो सविचार या आपके विचार 
बना डालो अब आम का आचार 
यह है फेसबुक परिवार 

बालकृष्ण डी ध्यानी
देवभूमि बद्री-केदारनाथ
मेरा ब्लोग्स
http:// balkrishna_dhyani.blogspot.com
मै पूर्व प्रकाशीत हैं -सर्वाधिकार सुरक्षीत

कवी बालकृष्ण डी ध्यानी 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें